Friday, April 20, 2012

MCK-246-मत रो माँ


Download 29 MB
Download 50 MB
फूटी किस्मत में आप ने पढ़ा किस कदर एक राजा का लड़का फूटी किस्मत लेकर पैदा होता है और दर-दर की ठोकरे खाता है. एक राजा का बेटा और उसकी किस्मत में सिर्फ पांच रुपये और एक बैल. अब तो कामाल तब होता है जब एक साधू बाबा उसकी उस कमाई को भी अपने ऊपर खर्च करवा देते है आब विचारा ये सोच- सोच कर परेशान है की कल क्या होगा बैल भी बिक गया है और अब सिर्फ पांच रुपये ही बचे है . अब तो ये सवाल उठता है की साधू बाबा ऐसा क्यों कर रहे है और उससे भी अहम् सवाल क्या कटखन सदा ऐसे ही अपना सारा जीवन यापन करेगा, या फिर कोई चमत्कार होगा, और इन सब से जायदा मजेदार सवाल इतनी कहानी पढने के बाद इसका शीर्षक "मत रो माँ " का क्या मतलब है जब की कटखन के माँ- बाप तो है ही नहीं.
पढ़े और देखे.

No comments:

Post a Comment