Saturday, October 22, 2016

Manoj Comics-894-Maut Ka Karz


Download 08 MB
Download 35 MB
मनोज कॉमिक्स-८९४-मौत का क़र्ज़
कहानी और चित्र दोनों के लिहाज़ से कहानी औसत है। पढ़ने लायक तो है पर मुझे तो बहुत अच्छी नहीं लगी। कहानी की कुछ बाते बिना मतलब लगाती है। शुरू के कुछ पेज तो ऐसा लगता है उनका कहानी से कोई लेना देना नहीं है। जो आदमी अपनी बेज्जती का बदला नहीं लेता अपनी तांत्रिक शक्तियों की मदद से तो अपने दत्तक पुत्र को वो करने देता है जो की समझ के परे  लगता है।

कहानी शुरू होती है एक तांत्रिक के एक बच्चे को भूत से बचाने  के प्रयास से। जिसमे वो असफल होता है और लोग उसे हत्यारा समझ कर गाँव  से निकाल  देते है। और फिर अगले पेज से एक नया घटनाक्रम शुरू हो जाता है एक परिवार की हत्या होती है जिसमे अपराधी पूरे परिवार को मार देते है और बच्चे को खिड़की से बाहर फेक देते है। इसके आगे जानने के लिए आप को कॉमिक्स पढ़नी पड़ेगी। पढ़ कर देखे।

6 comments:

  1. Is chitrakatha ke liye shukriya Lucknow ke nawab Saab :)

    ReplyDelete
  2. Is chitrakatha ke liye shukriya Lucknow ke nawab Saab :)

    ReplyDelete
  3. bachpan ko yaad dilaane ke liye bahut bahut shukriya manoj ji.

    ReplyDelete
  4. Thank you Manoj bro.. All the missing are now being uploaded by you!!

    ReplyDelete
  5. Thank you Manoj bro.. All the missing are now being uploaded by you!!

    ReplyDelete