Saturday, December 30, 2017

Prabhat Comics-200-Tiger Dushmano Ke Desh Me


Download 10 MB
Download 34 MB
प्रभात चित्रकथा-टाइगर दुश्मनों के देश में
 प्रभात कॉमिक्स / चित्रकथा , नूतन चित्रकथा , गंगा चित्रकथा सब एक ही परिवार की पब्लिकेशन है। फिलहाल नूतन कॉमिक्स के डिजिटल राइट राज कॉमिक्स ने खरीद लिए है तो हमारे पास प्रभात और गंगा चित्रकथा अपलोड करने का काम रह जाता है। जब से मनोज कॉमिक्स पूरी तरह अपलोड की है तब से कॉमिक्स अपलोड में ज्यादा मन नहीं लग रहा है। इस कॉमिक्स को लगभग ३ महीने पहले स्कैन किया था। पर आज अपलोड कर पा रहा हूँ। वैसे तो मेरी पूरी कोशिश होगी कि मै कम से कम दो कॉमिक्स हर महीने अपलोड कर सकूँ।
 कहानी के लिहाज़ से मुझे ये कॉमिक्स काफ़ी पसंद आयी। टाइगर को धोखे से बिहोश करके चीन भेज दिया जाता है जिससे उसका दुश्मन उससे बदला ले सके। पर जैसा की आप जानते ही है की होश में आने के बाद वो चीन में क्या तबाही मचाता है और अपने दुश्मन को किस तरह तबाह करता है, ये सब ही इस कॉमिक्स का मुख्य आधार है।
 कॉमिक्स पढ़ कर देखे उम्मीद है आप को जरूर पसंद आएगा।

13 comments:

  1. Thanks bro...! Raaste me chhod mat jana.... 😃 wada chahe kiya ho....!

    ReplyDelete
  2. Thanks bro...! Raaste me chhod mat jana.... 😃 wada chahe kiya ho....!

    ReplyDelete
    Replies
    1. Nischint rahiye Nahi chhounga saath

      Delete
    2. MANOJ BHAI NAV VARSH KI BAHUT BAHUT BADHAAI AAPKO V AUR AAPKE POORE PARIVAAR KO V. MANOJ COMIC POORI UPLOAD TO KAR HI DIYA AAP JABARDASTI (HE HE HE HE) NAYE SAAL ME AAPKI AUR V MANOKAAMNAYEIN POORI HO JAAYE BHAI. AISA HI MAST KHOOSH RAHO AAP. PAISE NAHIN HONE KE KAARAN MERI KUCH COMICS PADHNI RAH GAYI LEKIN JALDI HI PAYTM KARKE PADH LOONGA

      Delete
  3. namaskar bhai ji ,,,apki wajaha se mujh jaise kai logo ki ,,unkey bachpan ki hasrat puri ho rahi hai.,,,aise aise comics padhney ko mil rahey hain jo out of market hai,jinko padhna lagbagh asambhav tha,,,pure internet par hindi comics ko bachaney me lagey hue ginti ke blogs me apka blog anmol hai.,,dhanyavad

    ReplyDelete
  4. Manoj bhai....mujhe shikar..hum hatyare h...hatyare sapne..sulag uthi jwala...jaag utha shaitan ..manoj comics ki link chahiye.....iske liye pay tm no...bhejo...rupes dalne k liye

    ReplyDelete
  5. Manoj bhai bahut dino baad aapka post padh kar accha laga. Aapka whatsaapp bhi band rahta hai.

    Kya tulsi comics ke generals hai aapke paas ? Mere paas kuchh to hai. Par baki nahi mil rahe.

    ReplyDelete