Friday, June 13, 2014

Star Comics-01-Push Ki Raat


Download 10 MB
Download 45 MB
स्टार कॉमिक्स-०१-पूस की रात
 मुंशी प्रेमचंद जी ने जो लिख दिया है वो न उनसे पहले कोई लिख पाया है और न आगे कोई लिख पायेगा। उनकी कहानियों को कॉमिक्स का रूप दिया था स्टार कॉमिक्स ने और इस सीरीज़ में उन्होंने मेरी जानकारी में ४ कॉमिक्स निकली थी। १- पूस रात , २- ईदगाह ,३- बेटों वाली विधवा, ४-पंच परमेश्वर।
ये चारो कॉमिक्स मेरे पास है वैसे तो मैंने इनमे से तीन कॉमिक्स स्कैन और अपलोड किया है पर इस ब्लॉग पर सिर्फ एक कॉमिक्स एक कॉमिक्स पंच परमेश्वर ही मिल पायेगी और मेरे पास सोफ्टकॉपी भी नहीं है मैं उन्हें दुबारा स्कैन करूँगा।
अब बात इस कॉमिक्स की कर ली जाये हमारे हिंदी पंचांग के अनुसार पूस का महीना कड़ाके की ठण्ड का महीना होता है और एक गरीब किसान जिसका खेत ही उसके जीने का सहारा है। पर उसकी दो बड़ी परेशानी है की खेतों में रात में नील गह का खतरा है और अगर खेती को नुकशान होता है तो फिर भूखा रहना पड़ रहता है। फिर वो अपने कुत्ते के साथ भयंकर ठण्ड में खेत की रखवाली करनी पड़ रही थी
अब इसके आगे आप कहानी पढ़ कर ही जाने तो अच्छा होगा। फिर जल्दी ही नई कॉमिक्स के साथ दुबारा मिलते है मिलते है।

Wednesday, May 14, 2014

Raj Comics-Maut Ka Station



Download 10 MB
Download 31 MB
राज कॉमिक्स-मौत का स्टेशन
 राज कॉमिक्स ने "थ्रिल हॉरर सस्पेंस" सीरीज़ पर कॉमिक्स की दुनिया मे सबसे बेहतर काम किया है खूब डराया है और बहुत बेह्तर कहनी के साथ जो कि किसी और प्रकाशन मे दोनो एक साथ बहुत कम ही मिला यानि कहनी और ड़र एक साथ।
 बेहतरीन कहानी जरूर पढें। स्कूल की छुट्टियां शुरु हो चूकि है और थोड़ा टाइम भी रहेगा और बीबी मायके जा रही है तो समय की कोइ कमी नहीं रहेगी और इन दिनो मे मै कम से कम ५० कॉमिक्स को कॉमिक्स तो अपलोड कर ही दूँगा।

Raj Comics-Chamgadad


Download 10 MB
Download 31 MB
राज कॉमिक्स-चमगादड़
 राज कॉमिक्स ने "थ्रिल हॉरर सस्पेंस" सीरीज़ पर कॉमिक्स की दुनिया मे सबसे बेहतर काम किया है खूब डराया है और बहुत बेह्तर कहनी के साथ जो कि किसी और प्रकाशन मे दोनो एक साथ बहुत कम ही मिला यानि कहनी और ड़र एक साथ। बेहतरीन कहानी जरूर पढें।

king comics-Khiladi



Download 34 MB
Download 10 MB
किंग कॉमिक्स- "खिलाडी"
ये सोच कर कितना आश्चर्य होता कि कभी कॉमिक्स की इतनी मांग थी की राज कॉमिक्स जैसे बड़े प्रकाशन ने भी दूसरें नाम से कॉमिक्स छापनी शुरु कर दी थी जिससे वो कॉमिक्स को भारी मांग को पुरा कर सके। किंग कॉमिक्स राज कॉमिक्स का ही एक उपकर्म है और ये उन नयी कॉमिक्स प्रकाशन तरफ के झुकाव से आपने पाठक को बचाने के लिये इस कॉमिक्स प्रकाशन को शुरु किया था।
 वैसे तो मै राज कॉमिक्स और किँग कॉमिक्स स्कैन और अपलोड कारना पसंद नही करता पर आज कल जो राज कॉमिक्स की पाठक लूटो पॉलिसी बना रखी है उससे मैने भी अपनी राज और किंग कॉमिक्स ना स्कैन कारने का जो इरादा था उसे फिलहाल बदल दीया है और ये तीन अपलोड कर रहा हूँ पर आगे के बारे मे मै अभी कुछ नहीं कह सकता।

Saturday, March 22, 2014

Manoj Comics-664-Maut Ki Chori


Download 10 MB
Download 31 MB
  मनोज कॉमिक्स-६६४-मौत की चोरी (अमर-अकबर)
 अंसार अख्तर जी कि एक और बेहतरीन कहानी, इस कॉमिक्स को परसों ही अपलोड हो जाना चाहिए था पर समय ने साथ नहीं दिया इसलिए आज इसे अपलोड कर हूँ। ये कॉमिक्स मेरे संग्रह में नहीं थी और जो कॉमिक्स मेरे संग्रह में नहीं होती है उसका अपलोड होना बहुत मुश्किल हो जाता है क्योंकि ज्यादा तर अपलोड करने इच्छा ही रखते और जो कुछ अपलोड करना चाहते है उनके पास स्कैनर ही नहीं होता है। लेकिन कहते है न कि अगर आप निस्वार्थ भाव से कोई काम करते है तो उसमे ईश्वर भी आप कि मदद करता है और मेरे साथ तो ये हमेशा से होता रहा है और उम्मीद है आगे भी होगा। पहले तो ये कॉमिक्स प्रदीप शेरावत जी नहीं स्कैन करके मुझे भेज दी पर उसके साथ दो परेशानी थी पहले वो १५० dpi में थी और मैं ३०० dpi में कॉमिक्स अपलोड करना पसंद करता हूँ और दूसरे उनसे स्कैन करने में २३ और २४ पन्ना रह गया था और जब वो मेरे कहने से हो पन्ने स्कैन करने जा रहे थे उनके स्कैनर ने धोखा दे दिया और मुझे ऐसा लगा कि ये कॉमिक्स अपलोड नहीं हो पायेगी तभी सल्लू राजा से बात हुवी और वो ये कॉमिक्स मुझेसे बदलने को तैयार हो गए और फिर जा कर ये कॉमिक्स मुझे मिल गयी तो मैंने अपनी दोनों हशरत पूरी कर ली यानि ३०० dpi में स्कैन और साथ में २३ और २४ पन्ना स्कैन।
बस मै आप सब से फिर से ये अनुरोध करूँगा कि आप प्रार्थना करें कि जो भी कॉमिक्स मेरे पास नहीं है जल्द से मुझे मिल जाये जिससे मै वो कॉमिक्स अपलोड कर सकूँ। अगर कॉमिक्स मेरे पास होगी तो अपलोड होगी जरुर इस बात में तो किसी को भी कोई संदेह नहीं होगा।
 जल्दी ही कुछ और कॉमिक्स के साथ आप से फिर मिलता हूँ …………।

Thursday, March 20, 2014

MC-659-Ancle Charli Aur Bhatiza dodo


Download 10 MB
Download 31 MB
मनोज कॉमिक्स-६५९-अंकल चार्ली और भतीजा डोडो इस तरह के चरित्र जैसे मोटू-पतलू, अंकल चार्ली और भी बहुत है जिन्हे मै बिलकुल भी पसंद नहीं करता हूँ। कारण सीधा सा है की मै जिसे नायक मान लेता हूँ तो फिर उसकी पिटाई या उसकी बुराई मुझे बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं होती है और इन सब चरित्रों का निर्माण ही उनकी बेवकूफी से हास्य पैदा करने के लिए होता है जिनमे उनकी बेज्जती और पिटाई शामिल होती है जो कम से कम मेरे लिए हज़म करना बहुत मुश्किल होता है। ऐसा नहीं है कि मैंने ऐसे चरित्रों कि कहानिया नहीं पढ़ी है पर मै अपने आप को उनसे कभी जोड़ नहीं पाया हूँ। ये कॉमिक्स मेरी पढ़ी हुवी भी नहीं है पर अपलोड करना था क्योंकि ये पेंडिंग चल रही थी तो स्कैन करके अपलोड कर दिया है बहुतो को ऐसे चरित्रों की कहानियाँ अच्छी लगती है,ये उनके लिए मेरी तरफ से तोफा है। आज रात तक पूरी उम्मीद है कि अमर-अकबर कि मौत कि चोरी भी अपलोड कर दूंगा।

Manoj Comics -660-Aag Hi Aag


Download 10 MB
Download 31 MB
मनोज कॉमिक्स-६६०- आग ही आग
 मनोज कॉमिक्स में अंसार अख्तर की एक और बेजोड़ कहानी कर्नल कर्ण सीरीज़ की, अंसार अख्तर जी ने मनोज कॉमिक्स के लिए बहुत कहानियां लिखी सभी एक से बढ़कर एक। इन्होने अमर-अकबर,कर्नल कर्ण -असलम,विनोद-हमीद,सागर-सलीम सीरीज़ की खूब कॉमिक्स लिखी और सब लगभग एक ही जैसी होती थी फिर भी हर सीरीज़ का अपना अलग ही मज़ा होता है सब एक जैसी होते हुवे भी एक दूसरे से बहुत अलग होती थी। पहले तो एस तरह की कहानियों का चलन था। सब की सब एक नज़र में जेम्स बॉन्ड की कहानियों नक़ल होती थी बस उनको जोड़ियों में बना दिया वैसे तो महान जासूसी लेखक इब्ने सफी जी ने भी यही चलन स्थापित किया था यानि जोड़ियों वाला और मुझे लगता है इन सभी ने इसने ही प्रेरित होकर ही काफी कुछ लिखा है।
 कहानी में कुछ भी नया है बस इतना ही की कभी देश की कोई फ़ाइल चोरी हो गयी कभी फार्मूला कभी कुछ खतरनाक जासूस देश में आया तबाही मचाने बस और हमारे जासूस इन सब से देश को बचाने में लगे रहते थे बस अगर कुछ अंतर होता था वो था हमारा बाल जासूस है या कोई बड़ा आदमी बाकि सब कुछ एक जैसा फिर भी इनको पढ़ने में बड़ा मज़ा आता था और आज भी आता है।
 इसे भी पढ़कर देखे ये भी वैसे है देश पर कोई मुशिबत और हमारे कर्नल साहब चले देश को बचाने आप भी उनकी मदद कीजिये (कहानी पढ़िए)

Sunday, March 16, 2014

Manoj Comics-654-Khooni Lutera



Download 10 MB
Download 53 MB
मनोज कॉमिक्स-६५४-खूनी लुटेरा
 मनोज कॉमिक्स में आप कोई भी कॉमिक्स उठा कर देख लो कहानी और चित्रों का इतना जबरदस्त संयोजन मिलता है जो आज बिलकुल भी देखने को नहीं मिलता है। अंसार अख्तर जी कि कोई भी कहानी शायद ही कभी दूसरे आयाम में गयी हो और मज़ेदार बात ये भी है कि वो लगभग एक जैसी कहानियां लिखते थे फिर भी पढ़ने में इतनी अलग विश्वास करना मुश्किल होता है। आज को लेखकों को अंग्रेजी कॉमिक्स पढ़कर उसका अनुवाद करना छोड़कर इनकी कहानियां पढ़नी चाहिए और देखना चाहिए कि बिना फालतू कि लाग लपेट के कितनी अच्छी कहानियां लिखी जा सकती है।
 ये कहानी शुरू होती है एक गुण्डे के एक सोसाइटी में किराये पर रहने आने से, और फिर सुरु होता है उसका लोगो को परेशान करना। लोग पुलिश के पास जाने कि कोशिश करते है पर वो उन्हें बुरी तरह से पीट देता है और सोसाइटी उसे ६ महीने से पहले निकाल नहीं सकती।
अब लोग क्या करेंगे ? और इस तरह से उस गुण्डे का सोसाइटी में आना कही किसी साजिश का हिस्सा तो नहीं है ? क्या है ये तो कॉमिक्स पढ़ कर ही पता चलेगा पर सच कहूं एक बार जरुर पढ़े तबियत खुश हो जायेगी।

 कल होली है और आज कल में पास ज्यादा काम भी नहीं है इसलिए ये तीनो कॉमिक्स जो कि पेंडिंग थी मेरे ब्लॉग पर भी और मुकेश जी जो ग्रुप में दे रहे है उसमे भी इसलिए आज इन तीनो कॉमिक्स को एक साथ अपलोड कर रहा हूँ। साथ में आप सब को होली कि ढेर सारी सुभकामनाएँ। फिर जल्दी ही मिलते है एक नयी कॉमिक्स के साथ उससे पहले उम्मीद है आज रात में ही एक बाल पॉकेट बुक भी अपलोड होगा।

Manoj Comics-645-Maut Ki Anguthi


Download 10 MB
Download 35 MB
मनोज कॉमिक्स-६४५-मौत की अँगूठी
 जैसा कि हम सब जो मनोज कॉमिक्स को जानते है वो ये भी जानते है कि मनोज कॉमिक्स राजा-रानी के कहानियों के लिए ही जानी जाती थी। ये कहानी भी उसी श्रृखला की एक कड़ी है। मनोज कॉमिक्स के सबसे बेहतर लेखकों में से श्री विजय कुमार वत्स जी ने इस कहानी को लिखा है। और अच्छा लिखा है।
 कहानी में के न्याय प्रिय राजा के दो पुत्रों को लेकर है, एक बेटा जो कि माँ काली का भक्त है और वीर राजकुमार है और दूसरा बेटा कामजोर,काहिल और मक्कार है जो अपने फायदे के लिए कुछ भी कर सकता है और अपनी चालबाज़ियों से निरंतर अपने भाई और पिता को मुर्ख बनता रहता है पर हद तब होती है कि वो अपने भाई को गलत इलज़ाम में फसा कर पिता कि मौत कि साजिश रचता है।
इसके बाद कि कहानी जानने के लिए आप को कॉमिक्स पूरी पढ़नी पड़ेगी। सवाल कई है जैसे क्या वो अपने मकसद में कामियाब होता है या उसका भांडा फूट जाता है।
जरुर पढ़े इस बेहतरीन कहानी को।

Manoj Comics-637-Chore Ke Ghar Chori


Download 10 MB
Download 30 MB
मनोज कॉमिक्स-६३७-चोर के घर चोरी
 चोर के घर चोरी जैसा कि नाम से ही लग रहा है कि कहानी कैसी होगी,और सच कहू तो कहानी काफी हद तक वैसी ही है। अंसार अख्तर जी की लिखी ये कहानी है लाजबाब है,
कहानी सुरु होती है एक चोर से जो कि जेल में बंद है,और जो ये तय कर लेता है कि वो कभी चोरी नहीं करेगा। और जब वो जेल से छूटता है तो अपनी पूरी कोशिश करता है कि उसे चोरी न करनी पड़े पर जैसा कि हम सब जानते है कि दुनियां किसी सच्चे आदमी को तो अपनाती नहीं किसी चोर को कैसे अपना लेती पर हमारा नायक इसके लिए प्रतिबद्ध रहता है कि चोरी नहीं करेगा पर कुछ दिनों में उसके भूखे रहने कि नौबत आ जाती है फिर वो मज़बूरी में अपने एक और चोर मित्र कि सलाह पर आखरी चोरी का मन बनता है।
 इसके बाद क्या होता है इसके लिए तो आप को ये कॉमिक्स पूरी पढ़नी पड़ेगी। सवाल कई है जैसे क्या उनकी चोरी सफल होती है ? क्या दोनों पकडे जाते है? क्या कुछ और ही मोड़ आता है इस कहानी में ?
मै बस इतना बता सकता हूँ कि कहानी पढ़ने के बाद आप वाह कह उठेंगे। बहुत ही बढ़िया कहानी।

Thursday, March 6, 2014

PC-07-Dadaji Aur Khuni Gufa


Download 10 MB
Download 53 MB
पवन कॉमिक्स-०७-दादा जी और खुनी गुफा
 पवन कॉमिक्स, कुछ अच्छे से याद नहीं आता कि मैंने इनकी पहली कॉमिक्स कौन सी पढ़ी थी पर पवन कॉमिक्स को पहचानता तो मैंने सूर्यपुत्र और राम-बलराम के कारण ही था। वो ऐसा दौर था जब हम को ये पता ही नहीं चलता था कि प्रकाशक कौन है हमें सिर्फ कॉमिक्स के हीरो से मतलब होता था। राम-रहीम है या शेरा है महाबली शाका है या चाचा चौधरी है या नागराज है कि सुपर कमाण्डो ध्रुव है या हवलदार बहादुर बस इसके अलावा हमें किसी चीज़ से कोई लेना देना नहीं होता था यहाँ तक लेखक और चित्रकार का नाम तक नहीं पढ़ते थे।
 उस समय तो जैसे रिस्तों का दौर था दादा, जी मामा जी ,चाचा चौधरी,चाचा चम्पक लाल आदि पर लोग इन्हे पसंद भी खूब करते थे पर अब तो समय तेज़ी बदल रहा है आज के बच्चे हिंदी के बारे में ही सुनना नहीं चाहते हिंदी में आने वाली कॉमिक्स के बारे में कौन सुनेगा।
अब बात इस कॉमिक्स कि कर ली जाये तो ये कॉमिक्स भी पुराने तरह के अपहरण को लेकर है जिसमे राजा की बेटी को दुष्ट जादूगर उठा ले जाता है उसके बात दादा जी कैसे राजकुमारी को छुड़ाकर लाते है और जादूगर का अंत करते है ये ही इस कहानी का मूल आधार है। आज बस इतना ही स्कूल का बहुत काम है पर वादा करता हूँ कि जल्द ही नयी कॉमिक्स के साथ दुबरा मिलता हूँ।

Secret Invasion 040 Secret Invasion 4

Secret Invasion 039 Captain Britain MI 3


Download

Secret Invasion 038 Secret Invasion Front Line 1


Download MB

Secret Invasion 037 Secret Invasion Directors Cut 1


Download

Secret Invasion 035 Ms Marvel 28

Tuesday, February 25, 2014

DC-728-Lambu Motu Aur Green Signal


Download 15 MB
Download 48 MB
डायमंड कॉमिक्स-७२८-लम्बू-मोटू और ग्रीन सिग्नल
डायमंड-कॉमिक्स भारत कि सबसे ज्यादा बिकने वाली कॉमिक्स में से एक थी और इसकी सबसे बड़ी खूबी दो थी एक तो "प्राण" के सारे चरित्र जैसे "चाचा चौधरी" , बिल्लू और पिंकी यहाँ से प्रकशित होते थे जिसके कारण मेरे जैसे कितने लोगो ने हिंदी पढ़ना सिखा था,और दूसरी खूबी इसकी कहानियों का प्रशारण हर रविवार रेडियो पर होता था जिससे इन कॉमिक्स के प्रति उत्सुकता बहुत बढ़ जाती थी। कुछ दिनों तक तो राज कॉमिक्स ने भी कॉमिक्स कि कहानियों का प्रशारण रेडियो पर किया था "नागराज और लाल मौत" मैंने रेडिओ पर सुन कर ही लिया था।
एस. सी.बेदी जी ने राजन-इक़बाल सीरीज़ डायमंड कॉमिक्स के लिए ही लिखा और बाद में उसके बाल पॉकेट बुक्स लिखने लगे। वो समय तो जैसे जोड़ियों का समय था राम-रहीम,राजन-इक़बाल,अमर-अकबर,राम-बलराम जैसे ढेर सारे बाल सीक्रेट एजेंट पर कहानियां आती थी और दिल कि बात कहूं तो मैंने कई बार ये पता करने कि कोशिश भी कि थी कि बाल सीक्रेट एजेंट कैसे बनते है पर कुछ पता ही नहीं चला।

कहानी के लिहाज़ से ये कॉमिक्स उतनी अच्छी तो नहीं है जैसा कि हम उम्मीद करते है बस ये कहानी हमें उस समय कि याद दिला देगी,कहानी कि सुरुवात होती है स्कूल के बच्चो से होती है जो कि एक बस में पिकनिक जा रहे थे जिसमे लम्बू-मोटू भी थे और उसी बस को आंतकवादी अपना बंधक बना लेते है उसके बाद लम्बू-मोटू किस तरह से उस बस को छुड़ाते है ये ही इस कहानी का मुख्य आधार है।

 हाँ आज यहाँ पर वो कुछ बाते मै दुबारा दोहरा रहा हूँ जिसे मै पहले भी कई बात कह चूका हूँ, इस ब्लॉग पर जो भी कॉमिक्स अपलोड होती है अगर उसे मैंने स्कैन और अपलोड किया होगा तो उस कॉमिक्स के साथ ९९ % मेरा उस कॉमिक्स के प्रति विचार जरुर होगा और उसमे मेरे ब्लॉग का लोगो तो १००% होगा अगर ऐसा नहीं है तो वो कॉमिक्स मेरी स्कैन और अपलोड की हुवी नहीं होगी वो सिर्फ यहाँ पर इसलिए दी गयी होगी कि ब्लॉग चलयमान रहे या फिर वो कॉमिक्स किसी सीरीज का हिस्सा होगी या फिर उस कॉमिक्स का लिंक नहीं नहीं मिल रहा होगा। अब बात आती है कि असली अपलोडर का नाम देने कि है तो वो मेरे लिए सम्भव नहीं रहता क्योंकि मै कभी कोई कॉमिक्स डाउनलोड नहीं करता क्योंकि मेरा नेट बहुत धीरे चलता है इसलिए मै अपने मित्रों से डीवीडी मंगवा कर कॉमिक्स पा लेता हूँ ऐसे में मुझे ये कभी पता नहीं रहता कि कौन से कॉमिक्स किसने भेजी है और उसे कहाँ से डाउनलोड किया गया है।
आज के लिए इतना बहुत है फिर जल्दी ही नयी कॉमिक्स के साथ दुबारा मिलते है। .......

Rakesh ChitraKatha-Natku Jhatku ki Antriksh Yatra


Download

Chandamama Classics Aur Comics-01-08-Walt Disney ki Vichitrapuri


Download

Secret Invasion 034 New Avengers 42


Download

Secret Invasion 031 Fantastic Four 2


Download

Secret Invasion 028 Captain Britain MI13 2

Secret Invasion 022 Incredible Hercules 117

Secret Invasion 016 Ms Marvel 26